लगातार बढ़ती महंगाई के बीच मध्यप्रदेश के लोगों को एक और झटका लगने वाला है। एक बार फिर मध्यप्रदेश में बिजली (Electricity) की दरें फिर से बढ़ सकती है। बता दें कि मध्यप्रदेश में फिर बिजली दरें बढ़ाने की तैयारी शुरू हो गई है।

नए वित्तीय वर्ष में दरें बढ़ाने के लिए बिजली कंपनियों ने प्रस्ताव किया तैयार :

बताया जा रहा है कि नए वित्तीय वर्ष में दरें बढ़ाने के लिए बिजली कंपनियों ने प्रस्ताव तैयार किया है। इसको लेकर एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी ने राज्य विद्युत नियामक आयोग में याचिका भी दायर की है। इस याचिका पर 14 दिसंबर को आयोग सुनवाई करेगा।

6 प्रतिशत तक बढ़ाई जा सकती हैं बिजली की दरें:

मिली जानकारी के मुताबिक मध्यप्रदेश पावर मैनेजमेंट कंपनी ने दर में बढ़ोतरी के लिए राज्य विद्युत नियामक आयोग में याचिका दाखिल किया है। जिसमें नए वित्तीय वर्ष में 6 प्रतिशत बिजली की दर में बढ़ोतरी करने की मांग की है। संभावना जताई जा रही है कि एक बार फिर लोगों को महंगी बिजली बिल का झटका लग सकता है।

16 माह में तीसरी बार बिजली दरों में इजाफा :

बता दें कि जहां देश के कई अन्य राज्यों की तरह मध्य प्रदेश में भी कोयले की कमी से बिजली की सप्लाय पर असर पड़ने का खतरा पैदा हो गया है। वही, इस बीच अब प्रदेश में फिर बिजली दरें बढ़ाने की तैयारी शुरू हो गई है। बताते चलें कि, इसी साल बिजली की दरों में बढ़ोतरी की है। अब फिर से बिजली की दरों में बढ़ोतरी का प्रस्ताव सामने आया है। वहीं अगर कंपनी के पक्ष में फैसला आता है तो इस तरह 16 माह में तीसरी बार बिजली की दरों में इजाफा होगा।

Source: Raj Express